नोटबंदी के बाद आयकर विभाग का नोएडा के सेक्‍टर-51 स्थित ऐक्सिस बैंक में छापेमारी

नोटबंदी के ऐलान के बाद आयकर विभाग की छापेमारी का दौर जारी है। गुरुवार को इनकम टैक्‍स विभाग की टीम ने नोएडा के सेक्‍टर-51 स्थित ऐक्सिस बैंक शाखा में छापेमारी की। विभाग को यहां से 20 फर्जी क‍ंपनियों के खाते होने की बात पता चली है। एएनआई के अनुसार, इन खातों में 60  करोड़ रुपए से ज्‍यादा की रकम जमा है। विस्‍तृत रिपोर्ट की प्रतीक्षा है।

पिछले महीने आठ नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का एलान किया था। इसके तहत घोषणा की गई थी कि आठ नवंबर के बाद 500 और 1000 के पुराने नोट अब नहीं चलेंगे। इसके बाद से काला धन को सफेद करने की इस तरह की खबरें पूरे देश से आ रही हैं।

ऐक्सिस बैंक ने नोटबंदी के बाद गैरकानूनी गतिविधियों में कथित तौर पर शामिल अपने 19 अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है, इनमें छह कश्मीरी गेट शाखा के अधिकारी हैं। आयकर विभाग के अधिकारियों ने दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में एक्सिस बैंक की शाखा में छापेमारी की, इस शाखा में अधिकारीयों ने कथित तौर पर 44 फर्जी बैंक खाते होने का पता लगाया है। अधिकारियों के मुताबिक 8 नवंबर को हुए 500 और 1000 के नोटों को बंद करने के ऐलान के बाद से इन खातों में 100 करोड़ रुपये के पुराने नोट जमा कराए गए हैं।

ऐक्सिस बैंक के प्रवक्ता ने कहा, “बैंक कॉरपोरेट गवर्नेस के उच्च मानदंडों का पालन करने के प्रति कटिबद्ध है तथा किसी कर्मचारी की तरफ से आचार संहिता को नजरअंदाज करने की कोई भी कार्रवाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने वाले कर्मचारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी”। नोटबंदी के फैसले के बाद ऐक्सिस बैंक की किसी शाखा में की गई यह दूसरी छापेमारी है।

आयकर विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि 8 नवंबर से लेकर अब तक इस शाखा में 450 करोड़ रुपये जमा किए गए हैं। आयकर विभाग ने नवंबर में उत्तरी दिल्ली के कश्मीरी गेट स्थित एक्सिस बैंक की एक शाखा से बाहर दो लोगों को 3.5 करोड़ रुपये के नए नोटों के साथ पकड़ा था।

सरकार ने 500 रुपये तथा 1000 रुपये के पुराने नोटों को बदलने के लिए 30 दिसम्बर तक का वक्त दिया है। सरकार ने चेतावनी दी है कि आयकर विभाग को बिना सूचना दिए बड़ी राशि जमा करने वालों पर भारी जुर्माना लगाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *