भोपाल: पुलिस की बेरहमी का शिकार हुई महिला और मासूम बच्ची,आखिर कब तक मासूम होते रहेंगे पुलिस की बर्बरता का शिकार

(संवादाता  समीना एजाज की रिपोर्ट)

 

कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना और सरकार द्वारा दिए गए आदेशों का पालन करना हर एक नागरिक का फर्ज है। अगर कोई इन आदेशों को हल्के में लेता है तो उन पर सख़्ती लाज़िम है, पर यहां तो मामला कुछ ऐसा है कि कोरोना प्रोटोकॉल की आड में तो ज़ुल्म हो रहा है और कोरोना की आड़ में पुलिस की बर्बरता पर कोई कार्यवाही क्यों नही की जा रही है।

भोपाल पुलिस की बेरहमी का शिकार हुई महिला और मासूम बच्ची,आखिर कब तक मासूम होते रहेंगे पुलिस की बर्बरता का शिकार

 

इस घटना के बाद से स्थानीय लोगों ने पुलिसकर्मियों की आलोचना की है। लोगों में पुलिस डिपार्टमेंट के इस बेरहम कृत्य को लेकर काफी ही गुस्से की भावना है।

 

भोपाल की नौ साल की 9 साल की मासूम का क्या कसूर था, जो पुलिस ने उसके साथ मारपीट की। उसने कौनसे प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया था।साथ ही इस बच्ची की मां उस महिला ने पुलिस के साथ कौन सी हाथापाई की थी जो उस बेरहम पुलिस ने महिला और बच्ची दोनो को ही लाठी और पाइप से पीट कर जखमी कर दिया। आखिर कब तक, कब तक मासूम होते रहेंगे पुलिस की बर्बरता का शिकार।

भोपाल पुलिस की बेरहमी का शिकार हुई महिला और मासूम बच्ची,आखिर कब तक मासूम होते रहेंगे पुलिस की बर्बरता का शिकार

 

 

 

पुलिस कर्मी ने महिला और बच्ची को लाठी और पाइप से पीटा

 

दर असल यह सारा ही मामला भोपाल शहर का है ‌।  वहां पर नाईट कर्फ्यू में एक चाय की दुकान खुली हुई थी ।  पुलिस उस दुकान को बंद करवाने पहुँची। उसी वक्त दुकानदार और पुलिस और पुलिस के बीच बहस होने लगी। आखिरकार इस बहस ने  झगड़ा का रुप ले लिया। दुकानदार ने तो लोगों के समझाने के बाद इस बात को वहीं रफा दफा कर दिया। मगर इस सारी ही घटना के बाद गुस्साए हुए पुलिस कर्मी दुकान मालिक के घर पहुँचे और उसके वहाँ न मिलने पर घर की उस बेचारे की पत्नी और उसकी बच्ची पर ताबड़तोड़ पाइप लाठी सै  मारना शुरू कर दिया और जमकर पिटाई की।

 

भोपाल पुलिस की बेरहमी का शिकार हुई महिला और मासूम बच्ची,आखिर कब तक मासूम होते रहेंगे पुलिस की बर्बरता का शिकार

इस घटना के बाद से स्थानीय लोगों ने पुलिसकर्मियों की आलोचना की है। लोगों में पुलिस डिपार्टमेंट के इस बेरहम कृत्य को लेकर काफी ही गुस्से की भावना है।

 

 

लोगों में फूट फूट कर उभरा गुस्सा

 

इस घटना के बाद से स्थानीय लोगों ने पुलिसकर्मियों की आलोचना की है। लोगों में पुलिस डिपार्टमेंट के इस बेरहम कृत्य को लेकर काफी ही गुस्से की भावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *