गजेंद्र चौहान की नियुक्ति पर उठे थे सवाल तो, एफटीआईआई के नए चेयरमैन होगे अनुपम खेर

बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर फिल्म एंड टीवी इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया एफटीआईआई पुणे के नए चेयरमैन होंगे । इनकी नियुक्ति की घोषणा बुधवार को की गई है । आप लोग को बता दे की साल 1982 में फिल्म ‘आगमन’ से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत करने वाले अनुपम खेर ने हिंदी सिनेमा को अनेक हिट और यादगार फिल्में दी हैं। उन्हें 2004 में पद्मश्री और 2016 में पद्म भूषण का सम्मान दिया गया था।

अनुपम ने करीब 500 से ज्यादा फिल्मों और थि‍एटर प्ले में काम किया है। वो कई इंटरनेशनल फिल्म से भी जुड़े रहे हैं। उनकी इंटरनेशनल फिल्म ‘बेंड इट लाइक बेकहम’ को साल 2002 में गोल्डन ग्लोब के लिए नॉमिनेट किया गया था। अनुपम ने पांच बार कॉमिक रोल के लिए बतौर बेस्ट एक्टर फिल्मफेयर अवॉर्ड जीता है। नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के स्टूडेंट रहे अनुपम खेर एक्टर्स प्रिपेयर्स इंस्टीट्यूट के चेयरमैन भी हैं।

कश्मीरी परिवार में जन्में अनुपम खेर ने साल 1982 में फिल्म ‘आगमन’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया। उनकी बेहतरीन फ़िल्मे सारांश, राम लखन, डैडी, मैंने गांधी को नहीं मारा, लम्हें, दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, हम आपके हैं कौन जैसी कई शानदार फिल्में शामिल हैं।

बॉलीवुड में बेहतरीन कलाकारों में शुमार किए जाने वाले अभिनेता अनुपम खेर को पुणे स्थिति भारतीय फिल्म एवं टेलिविज़न संस्थान (एफटीआईआई) का अध्यक्ष बनाया गया है। बीते काफी दिनों से बीजेपी और मोदी की जमकर तारीफ में लगे रहे हैं।

दिलचस्प बात ये है कि मोदी सरकार बनने के बाद प्रतिष्ठित संस्थान का अध्यक्ष अभिनेता गजेंद्र चौहान को बनाया गया था। उसके बाद छात्रों ने उनकी नियुक्ति का जमकर विरोध किया था। काफ़ी विरोध के बावजूद उनकी नियुक्ति को रद्द नहीं किया गया था। हाल में वो अपने बयानों को लेकर काफी विवादों में भी रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *