रिजर्व बैंक ने रेपो रेट समेत प्रमुख ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, नहीं घटी आपकी EMI

500 और 1000 रुपये के पुराने नोटबंदी के बाद बुधवार को अपनी पहली मौद्रिक नीति समीक्षा में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने आज रेपो रेट समेत प्रमुख ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया। रिजर्व बैंक ने आज तमाम विश्लेषकों और विशेषज्ञों के उमीदों पर पूर्ण विराम लगाते हुए बड़ा झटका दिया है।

बता दें कि उमीद लगाया जा रहा था कि आरबीआई आज रेपो रेट में कटौती कर सकती है। लेकिन बैंक ने इसे 6.25 फीसदी पर बरकरार रखा है। आरबीआइ का यह कदम आम आदमी से लेकर इंडस्‍ट्री और स्‍टॉक मार्केट सबके लिए निराशाजनक रहा है। इसका असर शेयर मार्केट पर भी देखा गया। शेयर बाजार के दोनों सूचकांक, सेंसेक्स तथा निफ्टी में गिरावट देखी गई।

आरबीआई ने वित्त वर्ष 2016-17 में ग्रोथ का अनुमान 7.6% रखा था जिससे घटाकर 7.1% कर दिया। आरबीआई ने एक बड़ी जानकारी यह भी दी कि 14 में से 11.55 लाख करोड़ रुपये के पुराने नोट बैंकों में वापस आ चुके हैं।

आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि महंगाई की आशंका को देखते हुए ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि अक्टूबर में ब्याज दरों में 0.25% की कटौती की गई थी। उसके बाद कटौती की जरूरत नहीं रह गई थी। हालांकि, बैंकों को राहत देने के लिए रिजर्व बैंक ने 100% सीआरआर को वापस ले लिया। आरबीआई गर्वनर ने कहा कि अब बैंक पर अब सीआरआर का कोई बोझ नहीं होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *