शिवसेना बीएमसी के विरुद्ध कांग्रेस के साथ बातचीत कर रही है : सूत्र

निकाय चुनावों के परिणाम जारी होने के बाद बाद महाराष्ट्र की राजनीति दिलचस्प हो गयी है। बीएमसी चुनावों में बहुमत के लिए पर्याप्त सीटें न मिलने के बाद शिवसेना ने अब देश के सबसे अमीर नगर निकाय मुंबई नगर निगम पर कब्जा जमाने और भाजपा को रेस से बाहर करने के लिए कांग्रेस के साथ पर्दे के पीछे से बातचीत शुरू कर दी है।

एक अंग्रेजी अखबार के अनुसार, उद्धव ठाकरे ने इसके लिए कांग्रेस से समर्थन मांगा है तांकि शहर के मेयर की कुर्सी पर शिवसेना का कब्जा हो सके। अखबार के मुताबिक शिवसेना ने कांग्रेस को समर्थन के बदले डिप्टी मेयर का पद ऑफर किया है। अधिकारियों के मुताबिक मेयर का चुनाव 9 मार्च को होगा।

महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक चौहान ने पार्टी के सीनियर नेताओं की एक बैठक बुलाई है, जिसमें सेना के प्रस्ताव के बारे में चर्चा की जाएगी। इस बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार शिंदे, नारायण राणे, मुंबई के कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम, सांसद हुसैन दलवई और महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री नसीम खान और बालासाहेब थोराट शामिल होंगे। इससे पहले अशोक चौहान के नजदीकी कांग्रेस विधायक अब्दुल सतार ने कहा कि पार्टी शिवसेना को समर्थन देने के बारे में विचार करेगी।

आपको बता दें कि गुरुवार को आए बीएमसी के नतीजों में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है। 227 सीटों में से शिवसेना के खाते में 84 सीटें आई हैं, जबकि भाजपा को भी 82 सीटें मिलीं है। वहीं कांग्रेस के पास 31, एनसीपी के पास 09 और मनसे के पास 07 सीटें हैं। हालांकि यह विकल्प बचा हुआ है कि भाजपा और शिवसेना अपने मतभेद भुलाकर फिर से साथ आ जाएं और इस बात के संकेत कल केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी दिए थे। वहीं कांग्रेस ने भी साफ कर दिया है कि गठबंधन पर तभी विचार हो सकता है जब शिवसेना फडणवीस सरकार से समर्थन वापस लेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *