तमिलनाडु के मुख्य सचिव राम मोहन राव के घर पर आयकर विभाग का छापा

आयकर विभाग ने बुधवार (21 दिसंबर) तमिलनाडु के प्रधान सचिव पी राम मोहन राव के बेटे और अन्य संबंधियों के खिलाफ कर चोरी मामले में जांच के लिए एक दर्जन से अधिक स्थानों पर छापेमारी की है। छापे की कार्रवाई आज सुबह साढ़े पांच बजे से जारी है। जानकारी के अनुसार चेन्‍नई के अन्ना नगर के उनके आवास पर छापेमारी के अलावा 10 अन्य जगहों पर भी कार्रवाई जारी है। राव के आवास पर आज तड़के इनकम टैक्‍स अधिकारियों की टीम पहुंची और छापे की कार्रवाई शुरू कर दी। आईटी अधिकारियों की टीम लगातार उनसे पूछताछ कर रही है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “कुल 13 परिसरों की तलाशी ली जा रही है।” उन्होंने बताया कि ये परिसर राव के बेटे और उनके अन्य संबंधियों से जुड़े हैं। ऐसा माना जा रहा है कि राज्य की राजधानी के प्रधान सचिव का आधिकारिक आवास भी इस अभियान के दायरे में लाया गया है। राव को राज्य सरकार ने इसी साल जून में राज्य का शीर्ष अफसरशाह नियुक्त किया था। उन्होंने कहा कि ये छापेमारियां नोटबंदी के बाद हुई नकदी और सोने की भारी कमी के दौरान विभाग की ओर से की जा रही जांचों से जुड़ी हैं। इस मुहिम में अब तक 142 करोड़ रूपए की बेनामी संपत्ति बरामद की जा चुकी है।

बता दें कि इस साल के आरंभ में ही पी राममोहन राव को तमिलनाडु के मुख्य सचिव का पदभार दिया गया था। एक रिपोर्ट के अनुसार, आयकर विभाग की टीम पी राममोहन राव के बेटे के भी खातों और अन्य संपत्तियों को खंगाल रही है। गौर हो कि कालेधन के खिलाफ मुहिम देशभर में जारी है, जिसके तहत आयकर विभाग ने नोटबंदी के अब तक हजारों करोड़ रुपये से अधिक की अघोषित आय का पता लगाया है। ऐसा पहली बार हुआ है जब राज्य के किसी चीफ सेक्रेटरी के घर पर इस तरह से आयकर विभाग के छापे पड़े हों।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *