शिमला और मनाली में भारी बर्फबारी, सड़कें अवरुद्ध

मौसम के तेवर बदलते ही देशभर में शुरू हुआ बारिश व बर्फबारी राहत के साथ लोगों के लिए मुश्किलें लेकर आई है। पूरा प्रदेश कड़ाके की ठंड की चपेट में है। शिमला-मनाली में बीती रात से वर्षा और बर्फबारी का दौर आरंभ हो गया है, जो आज दिन भर रुक-रुक कर जारी रहा। नेशनल हाइवे-22 कुफरी के पास बीती रात से बंद पड़ा हुआ है।

मौसम में अचानक हुए इस ताजा बदलाव से पूरा प्रदेश एक बार फिर कड़ाके की ठंड की चपेट में है। मौसम विभाग के अनुसार, अधिक गरज के साथ वर्षा और घने कोहरे क्षेत्र में होने की उम्मीद कर रहे हैं। दृश्यता कुछ स्थानों पर 10 मीटर की दूरी पर गिर गया। बारिश के कारण पालमपुर, सोलन, नाहन, बिलासपुर, ऊना, हमीरपुर और मंडी जैसे अन्य क्षेत्रों मे तापमान नीचे गिरे। क्षतिग्रस्त विद्युत लाइनों के कारण बिजली कई स्थानों पर टूट गया था।

इसके अलावा, हिमाचल में यातायात सेवाएं बाधित है। शुक्रवार की रात को बर्फबारी शिमला में पहला महत्वपूर्ण बर्फबारी थी। शिमला में मौसम विभाग के अनुसार, माल रोड, रिज, अमेरिकी क्लब और जाखू पहाड़ियों जैसे कुछ क्षेत्रों में बर्फ एक फुट से अधिक जमा थी।

shimla and manali

पुलिस सोमेश गोयल के महानिदेशक ने आईएएनएस से बात की और कहा कि दशकों के बाद शिमला में इतनी बर्फबारी हुई। आईएएनएस ने सूचना दी श्रीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की उड़ानों को रद्द कर दिया गया और सभी अंतर-जिला सड़कें शुक्रवार को बाधित रहे। मुख्यमंत्री ने बर्फबारी से निपटने के लिए प्रशासनिक तैयारियों पर नाराजगी व्यक्त की थी। अभी करीब 60 लोग ऐसे हैं जो चलने में असमर्थ होने के कारण फंसे हुए हैं, लेकिन वे सुरक्षित हैं। बर्फबारीने शिमला में 17 सालों का रिकार्ड तोड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *