डब्ल्यूएचओ की प्रमुख वैज्ञानिक का दावा बच्चों के लिए गेम चेंजर साबित होगी स्वदेशी नेजल वैक्सीन

 

(संवादाता  हर्ष जैन की रिपोर्ट)

 

कोविड से पूरा देश आज लड़ाई लड़ रहा है देश भर में संक्रमण से कई लोगों ने अपनी जान गवां दी भारत में कोरोना की दूसरी लहर ने खूब तबाही मचाई लेकिन अब भारत में तीसरी लहर का खतरा सबको डरा रहा है एक्सपर्ट की माने तो तीसरी लहर से बच्चों को खतरा हो सकता है ऐसे में बच्चों की सुरक्षा के लिए सरकार द्वारा कई कदम उठाए जा रहे हैं साथ है डब्ल्यूएचओ द्वारा भी  सुरक्षा संबंधित कई  जरुरी कदम उठाए जा रहे हैं।

 

डब्ल्यूएचओ की प्रमुख वैज्ञानिक का दावा है कि भारत में बन रही नेजल वैक्सीन बच्चों के लिए फायदे मंद साबित हो सकती है और यह बच्चों के लिए घातक साबित होने वाली तीसरी लहर में गेम चेंजर साबित हो सकती है। भारत में आने वाली तीसरी लहर को बच्चों के लिए घातक बताया जा रहा है ऐसे में बच्चों के बचाव के लिए टीकाकरण के उपाय भी किए जा रहे हैं ऐसे में भारत में बन रही नेजल वैक्सीन बच्चों के लिए लाभकारी हो सकती है यह दावा डब्ल्यूएचओ की प्रमुख वैज्ञानिक के द्वारा किया जाना राहत देने वाली बात है।

 

पूरे देश में कोरोना महामारी के कारण के कारण दूसरी लहर में काफी तबाही देखने को मिली कई लोगों ने अपनो को खो दिया ऐसे में तीसरी लहर को लेकर सभी लोग चिंतित हैं क्योंकि इसका असर अब बच्चों में देखने को मिल सकता है ऐसे में डब्ल्यूएचओ की प्रमुख वैज्ञानिक द्वारा दिया जाने वाला यह बयान राहत देने वाला है।